News

पासपोर्ट की सेवा भी बस दिखाने के लिए ही है

पिछले दिनों हुए पटना में CSC SPV और पासपोर्ट कार्यालय की ओर से वीएलई को प्रशिक्षित करने हेतु आयोजित एकदिवसीय कार्यशाला में पासपोर्ट सेवा मात्र एक दिखावा भर रह गया. कुछ एक वीएलई को छोड़कर सभी वीएलई की यही राय है की यह काम तो एक आम आदमी भी सीधे पासपोर्ट कार्यालय के पोर्टल से कर सकता है. वीएलई के लिए कुछ भी नया नहीं है इसमें. और तो और आवेदन करने के लिए बेवजह वीएलई के खाते से कुछ रकम काट ली जाती है, जोकि तर्कसंगत नहीं लगता है. वीएलई का मानना है की इस कार्य हेतु वीएलई को शुल्क में छुट होनी चाहिए थी. कुल मिलाकर Apna CSC के पोर्टल से आवेदन करने हेतु नुकसान है कोई लाभ नहीं है.

Workshop on Passport

     CSC SPV और Ministry of External Affairs के द्वारा पासपोर्ट भवन आशियाना, पटना में 02 अगस्त 2014 को एकदिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया है. इस कार्यशाला से बिहार के वीएलई के साथ ही अन्य राज्य के वीएलई भी लाभान्वित हो सकेंगे. पिछले कुछ दिन पहले ही यह सेवा अपना सीएससी के पोर्टल पर शुरू किया गया है. वीएलई को जागरूक करने के लिए यह कार्यशाला मत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी. ऐसे तो बहुत से वीएलई इस काम को पहले से कर रहे हैं. फिर भी कार्यशाला में तकनिकी बातें बताई जाएगी जो वीएलई का ज्ञान वर्धन करेगा. इसको लेकर बहुत से वीएलई के मन में जो सवाल होंगे उसका समाधान इस कार्यशाला में अवश्य हो जायेगा.

कांटी में हुई बैठक

प्रदेश संघ की बैठक आज कांटी में हुई. जिसमे वरिष्ठ पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्त्ता, वीएलई समेत कई अन्य गणमान्य लोगों ने हिस्सा लिया. बैठक में संघ की ओर से छपने वाली पत्रिका की रूप रेखा, थीम्स आदि पर खासकर विचार किया गया. इसमें कई वीएलई को अलग अलग कार्य सौंपे जायेंगे जो कि अलग अलग बिन्दुओं पर काम करेंगे. संघ के प्रदेश अध्यक्ष श्री शैलेन्द्र कुमार पाण्डेय ने कहा कि यह पत्रिका अप्रैल के प्रथम सप्ताह तक छप कर तैयार हो जाएगी. दुसरे सप्ताह से वीएलई के बीच वितरण कर दिया जायेगा. उन्होंने यह भी कहा कि यदि इस पत्रिका के सम्बन्ध में कोई सुझाव या कोई सामग्री देना चाहते है तो उनका हार्दिक स्वागत है.

नहीं हो सका बैठक

जाले 03 मार्च 2014. प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं वीएलई के संग बैठक होना था. लेकिन अकस्मात् जिला में प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्वाचन से सम्बंधित बैठक में जाना परा. अतः बैठक नहीं हो सका. यह बैठक आने वाले निर्वाचन में वीएलई को काम दिए जाने के लिए प्रखंड विकास पदाधिकारी के द्वारा बुलाया गया था. हलाकि वीएलई में आक्रोश देखा गया इस बात को लेकर. रतनपुर पंचायत के वीएलई रंजीत कुमार ठाकुर ने कहा कि हमलोगों के पास बहुत सारे काम है, BDO साहब को बैठक नहीं करना था तो कम से कम सन्देश तो भेज देते कि हम बैठक में नहीं आ सकते हैं. यहाँ आने से मेरा बहुत काम हर्ज हो गया. और लोगो ने भी बहुत सारी बाते कहीं.

Now Passport Services through CSCs

सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग के द्वारा देश के सभी Common Service Centers से Passport की सेवाएँ शुरू करने की कार्यवाही की जा रही है. विदेश मंत्रालय एवं CSC e-Governance Services India Ltd. के बीच इस बात को लेकर सहमती भी हो गयी है. विदेश मंत्रालय के अनुसार Passport के आवेदन के लिए ऑनलाइन फॉर्म (शुल्क के साथ) को अनिवार्य कर दिया है. जनता के सुविधा के लिए इस सेवा को सामान्य सेवा केन्द्र से जोड़ने का फैसला लिया है. ताकि सुदूर गाँव की जनता को दूर नहीं जाकर अपने पंचायत के ही वसुधा केन्द्र में जाकर आवेदन कर सकते हैं तथा इस सेवा के लिए भुगतान भी कर सकते हैं.

05 मार्च 2014 को पटना में होगी राज्य संघ की बैठक

05 मार्च 2014 को पटना के नूतन चिकित्शालय, पोस्टल पार्क चौराहा में राज्य संघ के बैठक का आयोजन किया गया है. इसकी सुचना संघ के प्रदेश अध्यक्ष श्री इन्द्रजीत कुमार सुधाकर ने दिया. श्री सुधाकर ने बिहार के सभी वीएलई को इस बैठक में भाग लेने का निवेदन किया है. उन्होंने कहा कि वसुधा केन्द्र की आज बहुत दयनीय स्थिति हो गयी है. इस परिस्थिति में कुछ वीएलई के द्वारा संघ को विघटित कर एक नया संघ बनाने का दावा करना और भी स्थिति को दयनीय बना दिया है. उन्होंने कहा कि राज्य एक है, वीएलई एक है, समस्याएँ एक है तो हम अलग अलग क्यों लड़ाई लड़ें.

बहुप्रतीक्षित पत्रिका 'वसुधा विहार' का प्रकाशन बहुत जल्द होने की सम्भावना

वसुधा केन्द्र संचालक संघ के द्वारा प्रकाशित होने वाली बहुप्रतीक्षित पत्रिका 'वसुधा विहार' का प्रकाशन अप्रैल के प्रथम सप्ताह तक हो जाने की सम्भावना है. इसके लिये सभी क़ानूनी प्रक्रियाएं पूर्ण कर ली गयी है. दरअसल यह पत्रिका खासकर वीएलई के लिए होगा. कुछ कॉलम आम आदमी के लिए भी होगा. जिससे वसुधा केन्द्र संचालक एवं आम आदमी वसुधा केन्द्र से परिचित हो सकेंगे एवं समय समय पर वसुधा केन्द्र हेतु अपना ज्ञानवर्धन कर सकेंगे. यह पत्रिका वसुधा केन्द्र के अलावे अन्य बुक स्टाल पर भी मिलने की उम्मीद है. जिसकी बुकिंग चालू है. वसुधा केन्द्र के वेबसाइट से भी आर्डर कर सकते हैं.

जाले BDO ने वीएलई को बैठक के लिए बुलाया है

जाले प्रखंड के BDO जगत नारायण मिश्र ने प्रखंड के सभी वीएलई को सोमवार 3 मार्च को बैठक में आने को कहा. उन्होंने कहा कि सभी वीएलई को चुनाव कार्य में लगाया जाना है. अतः सभी वीएलई की उपस्थिति अनिवार्य है. जिला संघ के अध्यक्ष कार्तिकेश कुमार ने कहा कि प्रशासन के द्वारा दिया गया हर काम चुनौतीपूर्वक किया जायेगा और सभी वीएलई को उपस्थित रहने का आग्रह किया.

बांकी बचे जिलों में e-District जल्द शुरू होने की सम्भावना है

बिहार के सभी जिलों में जल्द ही e-District शुरू होने की सम्भावना प्रबल होती दिख रही है. BELTRON प्रशासन की माने तो यह सेवा अप्रैल के अंतिम में या मई के शुरू के दिनों में शुरू किया जा सकता हैं. इस सेवा को कई चरणों में पुरा किया जाना है. प्रत्येक चरण में कुछ कुछ जिलों में इसको शुरू किया जायेगा. बताया जाता है कि इस वर्ष के अंत तक सभी जिलो में शुरू कर दिया जायेगा.

VLE CCC Examination

        इलेक्ट्रॉनिक एवं सुचना प्रौद्योगिकी विभाग से वीएलई के लिए संशोधित कंप्यूटर शिक्षा कोर्स की अनुमति दे दी है. इस दिशा निर्देश के तहत देश में लगभग 50000 वीएलई को लाभान्वित करने का लक्ष्य है. वीएलई को परीक्षा में बैठने पर कोई शुल्क नहीं देना होगा यह बिलकुल मुफ्त है. यहाँ तक कि अच्छा ग्रेड लाये जाने पर उन्हें पुरस्कार स्वरुप निम्लिखित राशि दी जाएगी.

Pages